नकली और असली अंडे की पहचान कैसे करे 5 तरीके

क्या आप जानते है नकली और असली अंडे की पहचान कैसे करे नहीं जानते तो आज हम आपको इसी के बारे में बताने जा रहे हैं. अंडा को प्रोटीन का अच्छा स्त्रोत माना जाता है. यही वजह है कि बॉडी बनाने वाले ज्यादातर लोग अंडा खाना पसंद करते हैं. आपको बता दे कि बॉडी बनाने के लिए अच्छे खासे प्रोटीन की जरुरत पड़ती है और अंडे में भरपूर प्रोटीन होता है. अंडे दूसरे प्रोटीन स्त्रोत की तुलना में काफी सस्ते भी होते हैं. हालाकि सर्दी के समय इनकी कीमत थोड़ी बढ़ जाती है लेकिन अंडे खाने के अनेक फायदे होते हैं. यदि आप मांसाहारी है तो डॉक्टर की तरफ से भी अंडे खाने की सलाह दी जाती है.

नकली और असली अंडे की पहचान कैसे करे 5 तरीके
asli ande ki pehchan kaise kare

बाजार में नकली सामानों की भरमार है और इससे अंडा भी अछूता नहीं है. अभी तक कई केस सामने आ चुके हैं जिसमें कई दुकानों पर नकली अंडे पाए गए हैं. खास तौर पर चीन से आने वाले अंडो पर नकली होने का संदेह बना रहता है. क्योंकि कई रिपोर्ट में पाया गया है कि चीन में नकली अंडे भी बनाये जाते हैं. अगर आप अंडे खाते है तो आपको थोड़ा सतर्क होने की जरुरत है क्योंकि अगर आप असली की जगह नकली अंडे खाते है तो यह आपकी सेहत को काफी नुकसान पहुंचाते हैं.

नकली और असली अंडे की पहचान कैसे करे

1. अंडे की चमक

नकली और असली अंडे की पहचान का का सबसे आसान तरीका अंडे की चमक है. चूँकि असली अंडो में ज्यादा चमक नहीं होती है ऐसे में अगर आपको अंडे की सतह कुछ ज्यादा की चमकदार दिखे तो आपको समझ जाना है अंडे नकली है.

2. स्पर्श करके देखे

दूसरे तरीके में आपको अंडे की ऊपरी सतह को हाथ से छूकर देखना है यदि अंडे की ऊपरी सतह स्मूथ या समतल महसूस हो तो अंडा असली है लेकिन यदि सतह रुखी महसूस हो तो अंडा नकली है.

3. अंडा को हिलाए

तीसरे तरीके में आपको अंडे को हिलाकर देखना है. असली अंडे को हिलाने पर उसके अन्दर से कोई आवाज नहीं आती है जबकि नकली अण्डों को हिलाने से उसके अन्दर से आवाज आती है.

4. तोड़कर देखे

जब भी हम असली अंडो को तोड़कर कर देखते है तो उसके अंदर का पीला भाग और सफेद भाग अलग अलग होते हैं इनको मिक्स करने पर ही ये मिक्स होते हैं. जबकि नकली अंडो को तोड़कर देखने पर उसके अन्दर का पीला और सफेद भाग पहले से ही मिक्स दिखाई देता है.

5. पानी में उबाले

नकली अंडे पक जाने के बाद भी पानी में डूबते नहीं है. जबकि असली अंडे पानी में डूब जाते हैं. अगर आप नकली अंडे को फोड़कर खुले में छोड़ दे तो इनमे न तो मक्खियाँ लगेगी और न ही चींटी आकर्षित होगी.

नकली अंडे कैसे बनते है

नकली अंडे बनाने के लिए सोडियम अल्जिनेट को गर्म पानी में मिलाकर बने मिश्रण में जलेटिन, ऐलम और बेन्जोइक मिलाया जाता है. इस मिश्रण से ही नकली अंडा तैयार किया जाता है. जहां तक बात करे अंडे के पीले और सफेद हिस्से की तो दोनों को बनाने में यही मिश्रण इस्तेमाल होता है.

एक तरफ जहां पीले हिस्से के लिए बस मिश्रण में थोड़ा पीला रंग मिला दिया जाता है. जबकि दूसरी तरफ अंडे का छिलका बनाने के लिए कैल्शियम क्लोराइड का इस्तेमाल किया जाता है. नकली अंडे बनाने का काम मशीनों के जरिये किया जाता है जिनसे बिल्कुल असली अंडे जैसे बनते है. यह काम इतनी सफाई से किया जाता है कि असली और नकली अंडे में अंतर पता कर पाना मुस्किल हो जाता है.

नकली और असली अंडे की पहचान कैसे करे अब आप जान गए होंगे यहां हमने आपको पांच तरीके बताये है जिनसे आप असली और नकली अंडे में अंतर पता कर सकते हैं. अगर आप अंडे खाने के शौकीन है तो एक बार अपने अंडो पर ऊपर बताये गए तरीके आजमाकर देखे. चुकीं यह आपकी सेहत से जुड़ा है और नकली अंडे आपकी सेहत को काफी नुकसान पहुंचाते है इसलिए आपको अंडे खाने से पहले थोड़ा सतर्क होने की जरुरत है.

NetHindi.com पर आपका स्वागत है यहाँ हम आपको देश दुनिया की दिलचस्प जानकारी शेयर करते रहते हैं अगर आप भी नई नई जानकारियों को जानने के लिए इक्षुक है तो हमारे साथ बने रहे हम आपके लिए ऐसे ही जानकारियां शेयर करते रहेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here